पाइल्स अब नही करेगी परेशान, इन चीज़ों को खाने से आसानी से होगा इसका समाधान |

0
27

नई दिल्ली। खाने-पीने में लापरवाही और अनियमित डेली रुटीन के कारण होने वाली परेशीनियों में से एक परेशानी है बवासीर। जिसे इंगलिश में पाइल्स भी कहते हैं। ये मल त्याग वाले स्थान पर होने वाली एक गंभीर बीमारी है जिसमें मरीज़ की हालत बत से बत्तर होती जाती है। पाइल्स होने पर लोग अक्सर जान ही नही पाते की उन्हें इसकी समस्या है और जानने के बाद भी वो डॉक्टर्स के पास जाने और किसी को बताने में झिझक महसूस करते हैं, लेकिन ऐसा करने से पाइल्स बढ़ सकती है और ऑपरेशन की हालत भी हो सकती है।

इसलिए अगर आपको इसके एक भी लक्षण महसूस होते हैं, तो आप घर पर ही बैठे-बैठे आसानी से इससे छुटाकारा पा सकते हैं।

पाइल्स के लक्षण

  • पाइल्स के कारण आपके पेट में अक्सर दर्द बना रहता है।
  • इसमें नॉर्मल बैठने में भई तकलीफ होती है।
  • मल त्यागने में प्रेशर लगाना पड़ता है और दर्द होता है।
  • मल त्याग करने के बाद भी आपको प्रेश नही महसूस होता।
  • पॉटी में खून आने लगता है।

घरेलू तरीकों से पाइए पाइल्स की प्रॉब्लम से छुट्टी

  • गाय के घी में कुचला घिसकर लेप करने से, बवासीर के घाव ठीक हो जाते हैं।
  • गुड के साथ हरड़ खाने से बवासीर से जल्दी छुटकारा मिलता है।
  • रोज़ सुबह बकरी का दूध पीने से बवासीर का जड़ से खत्म हो जाता है।
  • रोज़ मूली खाने से बवासीर नही होता है।
  • प्याज के छोटे-छोटे टुकड़े कर के धूप में सुखा लें। सूखे टुकड़ों में से एक तोला प्याज़ ले कर गाय के घी में तलें। बाद में एक माशा तिल और दो तोले मिश्री उसमें मिला कर रोज़ सुबह खाएं। ये भी बवासीर का बढ़िया इलाज हैं।
  • बवासीर में मट्ठा किसी अमृत से कम नही है। लेकिन बिना सेंधा नमक मिलाए इसको नहीं पीना चाहिए। यदि बवासीर के रोगी को अपच हो तो उसको रोज़ाना मट्ठा पीना चाहिए।
  • जीरे को भूनकर उसमें ज़रूरत अनुसार मिश्री मिलाकर मुंह में डालकर चूसें और फिर बिना भूने जीरे को पानी के साथ पीसकर बवासीर के मस्सों पर लेप करें। इन दोनों उपचारो से बवासीर की प्रॉब्लम से बिल्कुल शांति मिल जाएगी।
  • खूनी बवासीर में नींबू को बीच में चीरकर उस पर चार ग्राम कत्था पीसकर बुरक दें और फिर उसे रात भर छत पर रख दें। सुबह इनको चूस लीजिए। ये प्रयोग पांच दिन करें। खूनी बवासीर के लिए ये उत्तम प्रयोग हैं।

डाउनलोड करें Hindi News APP और रहें हर खबर से अपडेट।india News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Newsview के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen + five =