सीएम फडनवीस के आदेश के बाद मंत्री ने कर दी इस्तीफे की पेशकश…सरकार ने किया नामंजूर |

0
17

मुंबई| महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस ने भ्रष्टाचार के कथित आरोपों के चलते अपनी मंत्रिमंडल में शामिल दो मंत्रियों के खिलाफ जांच के आदेश क्या दिए, सूबे की सत्तारूढ़ बीजेपी-शिवसेना गठबंधन सरकार में खलबली मच गई है। दरअसल, मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए जांच के आदेश के बाद शिवसेना नेता और प्रदेश के उद्योग मंत्री सुभाष देसाई ने अपने इस्तीफे की पेशकश कर दिया। हालांकि सरकार ने इस इस्तीफे को नामंजूर कर दिया है।

मिली जानकारी के अनुसार, आवास मंत्री प्रकाश मेहता और देसाई के खिलाफ विधानसभा में विपक्ष के हंगामे के बाद फडणवीस ने शुक्रवार को आरोपों की जांच की घोषणा की। देसाई पर निजी बिल्डर्स को लाभ पहुंचाने के लिए एमआईडीसी नासिक की 12,000 हेक्टेयर भूमि डिनोटीफाई करने का आरोप है, जबकि मेहता पर मुंबई में झुग्गी बस्ती पुनर्वास परियोजनाओं में भ्रष्टाचार का आरोप है।

फडणवीस ने मेहता के खिलाफ लोकायुक्त एमएल तहिलयानी द्वारा और देसाई के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारक ब्यूरो द्वारा जांच का आश्वासन दिया है। यह बात देसाई को नागवार गुजरी और देसाई ने इस्तीफे की पेशकश कर दी। उन्होंने कहा कि मैं किसी भी विभाग द्वारा किसी भी जांच का सामना करने के लिए तैयार हूं।

विपक्ष ने दोनों मंत्रियों के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय और एक विशेष जांच दल द्वारा जांच कराए जाने की मांग की है। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि देसाई (75) पार्टी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के काफी करीबी माने जाते हैं। दोनों की शुक्रवार रात हुई मुलाकात के बाद देसाई ने इस्तीफा देने का फैसला किया।

डाउनलोड करें Hindi News APP और रहें हर खबर से अपडेट।india News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Newsview के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 + three =