राजस्थान में सरकारी दफ्तरों का काम काज ठप। जनता की सुनने वाला कोई नहीं।

0
78

#2930

=========
21 अगस्त से राजस्थान भर में राज्य कर्मचारी बेमियादी अवकाश पर चले गए हैं। कमो बेस पिछले एक पखवाड़े से राज्य कर्मचारी सामूहिक अवकाश पर हैं। वेतनमान को संशोधित करने की मांग को लेकर राज्य कर्मचारी सरकार से नाराज हैं। कर्मचारियों को उम्मीद थी कि एक पखवाड़े के सामूहिक अवकाश का असर सरकार पर पड़ेगा, लेकिन वित्त विभाग के अधिकारियों ने दो टूक शब्दों में कहा है कि कर्मचारियों के अवकाश पर रहने का सरकार पर कोई असर नहीं है। कर्मचारियों के वेतनमानों की मांग सरकार मानने को तैयार नहीं है। सरकार के इस रवैये से नाराज होकर ही कर्मचारियों ने बेमियादी अवकाश पर रहने की घोषणा कर दी। अंदाजा लगाया जा सकता है कि जिस सरकार के कर्मचारी एक पखवाड़े से अवकाश पर हो उस सरकार का कामकाज कैसा चल रहा होगा ? हो सकता है कि मंत्रियों और मुख्यमंत्री का काम प्रभावित न हुआ हो, लेकिन आम जनता बुरी तरह त्रस्त है। पहले ही छोटे-छोटे कामों के लिए सरकारी दफ्तरों के धक्के खाने पड़े थे और अब तो दफ्तरों का काम पूरी तरह ठप पड़ा है। सरकार ने जो कल्याणकारी योजनाएं चला रखी हैं, उनका लाभ भी जनता को नहीं मिल रहा। जनता की पीड़ा को न तो हड़ताली कर्मचारी और न सरकार समझ रही है। यदि इनमें से एक को भी जनता की परेशानियों की चिंता होती तो हड़ताल इतनी लम्बी नहीं खींचती। सरकार ने अपने इरादे स्पष्ट कर दिए हैं कि राज्य कर्मचारियों के सामने सरकार नहीं झुकेगी। वहीं 21 अगस्त से बेमियादी अवकाश पर रहने की घोषणा कर कर्मचारियों ने भी सरकार के अहम को सीधी चुनौती दी है। दफ्तरों में काम करने वाले कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि यदि सरकार ने मांगे नहीं मानी तो आने वाले दिनों में बिजली, पानी, चिकित्सा जैसी अति आवश्यक सेवाओं से जुड़े कर्मचारियों को भी हड़ताल में शामिल कर लिया जाएगा। हड़ताली कर्मचारियों ने जयपुर स्थित सचिवालय के कर्मचारियों से भी अपील की है कि वे हड़ताल में सहयोग करें। लेकिन राज्य कर्मचारियों को सचिवालय के कर्मचारियों का समर्थन मिलना मुश्किल है, क्योंकि सरकार ने पहले ही सचिवालय कर्मचारियों के वेतन में वृद्धि कर दी है। देखना है कि कर्मचारियों और सरकार की जंग के बीच राजस्थान की जनता को कब तक परेशान होना पड़ेगा। सरकार माने या नहीं, लेकिन कर्मचारियों की हड़ताल से सरकार की छवि भी खराब हो रही है।
एस.पी.मित्तल) (21-08-17)
नोट: फोटो मेरी वेबसाइट www.spmittal.in
https://play.google.com/store/apps/details? id=com.spmittal
www.facebook.com/SPMittalblog
Blog:- spmittalblogspot.in
M-09829071511 (सिर्फ संवाद के लिए)
================================
M: 07976-58-5247, 09462-20-0121 (सिर्फ वाट्सअप के लिए)

डाउनलोड करें Hindi News APP और रहें हर खबर से अपडेट।india News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Newsview के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 + 4 =